फसल उपचार

moong ki best spray in 2023 – मूंग की ज्यादा पैदावार में लाभकारी स्प्रे कौनसी है

Best Moong Spray in 2023 :- ( मूंग की फसल में पीलापन कैसे दूर करें ) :- किसान भाइयों जब से बरसात की सीजन शुरू होती है तो भारत का हर किसान काफी प्रसन हो जाता है उनकी खुशियों का ठिकाना नही होता है लेकिन खेतों में फसलों की बिजाई के बाद किसान फसलों में होने वाले रोगों से काफी चिंतित हो जाता है की मुंग, गवार की फसलों में जो रोग उत्पन्न हो जाते है उनसे कैसे बचाया जा सकता है बाजार से कौनसी स्प्रे खरीदें जिससे इन बिमारियों से फसलों को बचाया जा सकें इस प्रकार किसान के दिमाग में कई सारे सवाल घूमते है और आखिरकार दूसरों के विश्वास की दवाइयां खरीद कर फसलों में छिडकाव करता है और इनका रिजल्ट्स कुछ किसानों को अच्छा मिलता है और कुछ किसानों की समस्या दूर नही होती है |

moong ki best spray in 2023 – मूंग की फसल में पीलापन कैसे दूर करें

लेकिन किसान भाइयों आज जो हम आपको इस आर्टिकल में मुंग और गवार में जो पीलापन रोग होता है उसकी वजह से पौधे की ग्रोथ कम हो जाती है और पौधा धीरे-धीरे सूखने लगता है इसका रामबाण उपाय बताने वाले है जिसका छिडकाव करने के बाद आपके पौडे की ग्रोथ वापिस शुरू हो जाएगी और मुंग , गवार का पौधा फिर से हरा होना शुरू हो जाएगा आप एक बार इन उपायों को जरुर देखें |

moong ki best spray in 2023

मुंग की बेस्ट स्प्रे इन 2023 , मुंग में पीलापन रोग का इलाज , मुंग पीलापन रोग से कैसे बचाए, मुंग पिला किस कारण से होते है , मुंग में पीलापन किस रोग के कारण होता है , पीलापन का इलाज , मुंग फसल की ज्यादा पैदावार की स्प्रे, moong ki best spray in 2023, best spray moong in hindi, पीलापन दूर करने की दवा , मुंग पीलापन दूर करने की दवा , मूंग की फसल में पीलापन कैसे दूर करें , मूंग की ज्यादा पैदावार में लाभकारी स्प्रे

मुंग की फसल में पीलापन किस कारण से होता है

किसान भाइयों जब मुंग की फसल पिला होना शुरू हो जाती है तब देखना की पौधे की पत्तियों में छोटी-छोटी मख्खियाँ होती है जिसे मौजेक भी कहा जाता है यह मख्खियाँ पौधे की पत्तियों का रस चूसने का कार्य करती है जिसकी वजह से मुंग और गवार पिला होना शुरू हो जाता है यह पीलापन अक्सर मुंग की फसल को जब बिजाई के 30 दिन हो जाते है उस समय ज्यादा देखने को मिलती है कभी- कभी यह रोग फसलों में जब फलियाँ ( फाल ) लगना शुरू होती है उस समय भी होने लगता है इस रोग को पिला मौजेक रोग कहा जाता है आप इस रोग का इलाज बहुत ही आसानी से कर सकतें है इसके लिय आप निचे बताई गई स्प्रे का छिडकाव कीजिय और आपके फसली की रक्षा अगले 5 दिनों में हो जाएगा पीलापन एकदम दूर हो जाएगा |

Gvar ki Best Spray in 2022

ग्वार में कौन सी स्प्रे करें?

मुंग की फसल में पीलापन दूर करने की बेस्ट स्प्रे

आज जो आपको मुंग की बेस्ट स्प्रे बताने जा रहें है आप इन दवाइयों को निचे बताये गए तरीके के अनुसार छिडकाव करेंगे तो आपकी फसल जो पीलापन रोग से ग्रसित है उनसे तुरंत छुटकारा मिल जाएगा और साथ में आपको मुंग की ज्यादा पैदावार लेने की स्प्रे भी बताएँगे जिनका छिडकाव करने के बाद प्रति बीघा के हिसाब से आपको 5 कविन्टल का औसतन मिलेगा बस आप छिडकाव सही समय पर करें काफी लाभदायक स्प्रे है चलिय जानते है |

पिलापन दूर करने की बेस्ट स्प्रे

1 . इमिडाक्लोप्रिड 17.6 एसएल :-

किसान भाइयों कृषि विज्ञान केंद्र ने इस इमिडाक्लोप्रिड 17.6 एसएल को प्रमिंत किया है और इनका कहाँ है की अगर आप इस स्प्रे का छिडकाव बरसात होने के 24 घंटे बाद छिडकाव करते है तो आपकी मुंग की फसल में पिला मोजेक रोग है उसको दूर करने में काफी गुणकारी है इसके साथ आपको एक और दवाई का छिडकाव करना है जिसके बारे में निचे बताया गया है आप इनकी मात्रा को निचे बताये गए तरीकों के अनुसार ही करें बिलकुल मोजेक रोग से राहत मिलेगी |

2 . ऐसिटामिप्रिड :-

यह स्प्रे भी खासकर मुंग और गवार की फसल को पीलापन रोग से बचाने के लिय काफी सरदार है आप इन दोनों स्प्रे को निश्चित मात्र में मिलाकर छिडकाव करें इसमें मौजूद रसायन आपकी मुंग और गवार की फसल की सुरक्षा के लिय वरदान है आप बस निचे बताये गए तरीकों के नुसार छिडकाव करें |

छिडकाव करने का सही तरीका :-

  • आप सबसे पहले ध्यान रखें की इस स्प्रे को बरसात होने के तुरंत बाद छिडकाव ना करें |
  • आप 1 हेक्टेयर ( 4 बीघा ) जमीन पर इमिडाक्लोप्रिड 17.6 एसएल स्प्रे को 150 मिली ग्राम लेना है और ऐसिटामिप्रिड को भी 150 मिली ग्राम लेना है |
  • आप इन दोनों स्प्रे को बराबर मात्र में 500 लीटर पानी में अच्छी तरह मिलाना है |
  • अब आप इनका छिडकाव धीरे-धीरे मुंग या गवार की पत्तियों पर अच्छी तरह से करें पतियों पर इस स्प्रे का छिडकाव बढ़िया तरीके से करना है आपको जल्द बाजी नही करना है |
  • क्योकि किसान भाइयों यह दवाइयां बाजार से खरीदते समय किसान को काफी खर्च करना पड़ता है इसलिय आप समय की ध्यान न रखते हुए पौध पर अच्छी तरह करें |
  • यह दोनों स्प्रे किसान भाइयों आपकी मुंग फसल में जो पीलापन या मौजेक रोग है उसको अगले 24 घंटों में ख़त्म कर देगा |
  • और इस स्प्रे को करने के 5 से 7 दिनों बाद आप मुंग की ग्रोथ को और ज्यादा फ़ास्ट करने या फिर फसल की पैदावार काफी ज्यादा करने के लिय आप निचे बताई गई स्प्रे का छिडकाव भी कर सकतें है क्योकि जब पौधा किसी रोग से ग्रसित हो जाता है तो उसके बाद उस फसल की पैदावार कम हो जाती है उस पौधे को बढ़िया रसायन की आवश्यकता होती है ताकि किसान को अच्छी पैदावार मिले चलिय जानते है |

मुंग की ज्यादा पैदावार की बेस्ट स्प्रे कौनसी है

वैसे तो किसान भाइयों बाजार में बहुत सी स्प्रे मौजूद होती है और सभी बेचने वाले बढ़िया ही बताते है क्योकि उनको अपनी-अपनी दवाइयों ( स्प्रे ) को बेचना है ताकि ज्यादा की कमाई हो सकें लेकिन जो आज में आपको moong ki best spray बताने वाला हु इसका छिडकाव करने के बाद पौधे पर काफी ज्यादा फलियाँ लगेगी और पौधे पर फुल भी काफी ज्यादा आएँगे यह मेरा खुद का एक्पिरियंस है क्योकि में भी एक किसान का बेटा हूँ और हमने भी इसका उपयोग करके देखा है |

1 . जेबलिक एसिड

किसान भाइयों आप मुंग की ज्यादा उत्पादन क्षमता बढाने के लिय इस जेबलिक एसिड का इस्तेमाल करें यह कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा प्रमाणित है इसके रसायन के छिडकाव से पौधे की ग्रोथ काफी ज्यादा होती है और पौधे पर फुल और फलियाँ इतनी ज्यादा लगती है की मुंग को सीधा खड़ा रहने में भी काफी दिकत कटती है इसका छिडकाव भी आप प्रति हेक्टेयर में आप 150 ग्राम का कर सकतें है |

2 . इमिडाक्लोरोपिड

इसका छिडकाव करने से मुंग की फसल में छोटे-छोटे किट पतंग होते है उनको भी ख़त्म करता है और साथ में पौधे पर फाल अच्छी तरह से बनाने में भी मदद करता है कई बार मुंग का फुल फाल झड़ने लगता है इसके रोकथाम में इमिडाक्लोरोपिड काफी लाभदायक है आप जरुर इस्तेमाल करें बाजार में आपको आसानी से मिल जाएगी |

मुंग फसल से समन्धित प्रश्न -उत्तर

प्रश्न 1 . मूंग की फसल में स्प्रे कब करना चाहिए?

उत्तर – वैसे तो किसान भाइयों कोई भी समय सीमा नही होती है लेकिन जब आपके क्षेत्र में ज्यादा बरसात होती है तब मून में ज्यादा कीटनाशक उत्पन्न हो जाते है जिसकी वजह से पौधे की ग्रोथ कम होती है ऐसे में आप जब मुंग की फसल को बोये 20 दिन हो जाते है तब आप कीटनाशक दवाई का छिडकाव कर सकतें है |

प्रश्न 2 . मूंग की फसल में कौन सा टॉनिक डालें?

उत्तर – अगर आपके मुंग में पीलापन मोजेक रोग है तो फिर आप इमिडाक्लोप्रिड 17.6 एसएल और ऐसिटामिप्रिड को बराबर मात्र में मिलाकर छिडकाव करें और अगर आपको फसल पैदावार ज्यादा चाहिए तो फिर आप जेबलिक एसिड और इमिडाक्लोरोपिड को मिलाकर कर सकतें है |

प्रश्न 3 . मूंग में कौन कौन से रोग लगते हैं?

उत्तर – मुंग की फसल में ज्यादातर पिला मोजेक रोग ही होता है वैसे अन्य कीटनाशकों से सफ़ेद मख्खी , हरा मख्खी आदि रोग भी होते है लेकिन पिला मोजेक रोग सबसे ज्यादा नुकसानदायक होता है |

प्रश्न 4 . पीला मोजेक रोग क्या है?

उत्तर – मोजेक रोग मुंग और गवार की फसल का सबसे खतरनाक रोग है इसके लक्ष्ण आपके पौधे को पिला और छालानिदार करते है जिसकी वजह से मुंग सुख जाता है |

प्रश्न 5 . 1 एकड़ में कितनी मूंग होना चाहिए?

उत्तर – 1 एकड़ की भूमि में आप किसान भाइयों कम से कम 20 से 24 किलो मुंग की बिजाई करना चाहिए लेकिन कुछ क्षेत्रों में मुंग की जमीन दोमट मिटटी की है वहां पर आप 16 से 20 किलों की बिजाई कर सकतें है |

प्रश्न 6 . पौधों की पत्तियां पीली क्यों हो जाती है?

उत्तर – मुंग का पीलापन अक्सर पिला मोजेक रोग उत्पन्न होने से ही होता है मोजेक रोग पौधे की बीच वाली पत्तियों में छोटी- छोटी मखियाँ होती है जो सम्पूर्ण पौधे को पिला कर देती है |

admin

Recent Posts

Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana Bihar 2023 – बिहार कन्या उत्थान योजना लिस्ट सूचि देखें

Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana Bihar 2023 ( बिहार कन्या उत्थान योजना लिस्ट सूचि देखें ) :- बिहार राज्य के मुख्यमंत्री नितीश… Read More

2 दिन ago

Mukhyamantri Balak- Balika Protsahan Yojana 2023 – मुख्यमंत्री बालक बालिका प्रोत्साहन योजना पंजीयन फॉर्म

Mukhyamantri Balak- Balika Protsahan Yojana 2023 ( मुख्यमंत्री बालक बालिका प्रोत्साहन योजना पंजीयन फॉर्म ) :- बिहार सरकार द्वारा प्रदेश… Read More

2 दिन ago

Mukhyamantri Gram Parivahan Yojana 2023 – ग्राम परिवहन योजना बिहार आवेदन फॉर्म

Mukhyamantri Gram Parivahan Yojana 2023 ( ग्राम परिवहन योजना बिहार आवेदन फॉर्म ) :- बिहार सरकार ने प्रदेश के परिवारों… Read More

2 दिन ago

Bihar Student Credit Card Yojana 2023 – बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना रजिस्ट्रेशन

Bihar Student Credit Card Yojana 2023 ( बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना रजिस्ट्रेशन ) :- बिहार राज्य के मुख्यमंत्री नितीश… Read More

2 दिन ago

UP Rojgar Mela 2023 – उत्तर प्रदेश रोजगार मेला रजिस्ट्रेशन कैसे करें

UP Rojgar Mela Registration 2023 ( उत्तर प्रदेश रोजगार मेला रजिस्ट्रेशन कैसे करें ) :- UP राज्य के मुख्यमंत्री योगी… Read More

3 दिन ago

Mukhyamantri Krishak Durghatna Yojana Uttar Pradesh 2023 – मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना योजना आवेदन फॉर्म

Mukhyamantri Krishak Durghatna Yojana Uttar Pradesh 2023 ( मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना योजना आवेदन फॉर्म ) :- यूपी राज्य के मुख्यमंत्री… Read More

3 दिन ago

Mushroom ki kheti in 2023 – 1 एकड़ से प्रति वर्ष कमाए 25 लाख रुपया

Mushroom ki kheti in 2023 ( मशरुम की खेती ) :- किसान साथियों भारत एक कृषि प्रधान देश है आज… Read More

3 दिन ago

UP Divyang Shadi Yojana 2023 – दिव्यांगजन शादी-विवाह प्रोत्साहन योजना आवेदन फॉर्म

UP Divyang Shadi Yojana 2023 ( दिव्यांगजन शादी-विवाह प्रोत्साहन योजना आवेदन फॉर्म ) :- उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के… Read More

4 दिन ago

e-shram card ke benefits in 2023 – ई-श्रम कार्ड वालों को मिलेंगे हर महीने 500 रुपया

e-shram card ke benefits in 2023 ( ई-श्रम कार्ड के फायदे ) :- सरकार ने उत्तरप्रदेश राज्य के सभी श्रमिक… Read More

4 दिन ago