फसल उपचार

मूंग की फसल में पीलापन कैसे दूर करें : मूंग की ज्यादा पैदावार में लाभकारी स्प्रे

Best Moong Spray in 2022 :- ( मूंग की फसल में पीलापन कैसे दूर करें ) :- किसान भाइयों जब से बरसात की सीजन शुरू होती है तो भारत का हर किसान काफी प्रसन हो जाता है उनकी खुशियों का ठिकाना नही होता है लेकिन खेतों में फसलों की बिजाई के बाद किसान फसलों में होने वाले रोगों से काफी चिंतित हो जाता है की मुंग, गवार की फसलों में जो रोग उत्पन्न हो जाते है उनसे कैसे बचाया जा सकता है बाजार से कौनसी स्प्रे खरीदें जिससे इन बिमारियों से फसलों को बचाया जा सकें इस प्रकार किसान के दिमाग में कई सारे सवाल घूमते है और आखिरकार दूसरों के विश्वास की दवाइयां खरीद कर फसलों में छिडकाव करता है और इनका रिजल्ट्स कुछ किसानों को अच्छा मिलता है और कुछ किसानों की समस्या दूर नही होती है |

लेकिन किसान भाइयों आज जो हम आपको इस आर्टिकल में मुंग और गवार में जो पीलापन रोग होता है उसकी वजह से पौधे की ग्रोथ कम हो जाती है और पौधा धीरे-धीरे सूखने लगता है इसका रामबाण उपाय बताने वाले है जिसका छिडकाव करने के बाद आपके पौडे की ग्रोथ वापिस शुरू हो जाएगी और मुंग , गवार का पौधा फिर से हरा होना शुरू हो जाएगा आप एक बार इन उपायों को जरुर देखें |

मूंग की फसल में पीलापन कैसे दूर करें : मूंग की ज्यादा पैदावार में लाभकारी स्प्रे

moong ki best spray in 2022

मुंग की बेस्ट स्प्रे इन 2022 , मुंग में पीलापन रोग का इलाज , मुंग पीलापन रोग से कैसे बचाए, मुंग पिला किस कारण से होते है , मुंग में पीलापन किस रोग के कारण होता है , पीलापन का इलाज , मुंग फसल की ज्यादा पैदावार की स्प्रे, moong ki best spray in 2022, best spray moong, पीलापन दूर करने की दवा , मुंग पीलापन दूर करने की दवा , मूंग की फसल में पीलापन कैसे दूर करें , मूंग की ज्यादा पैदावार में लाभकारी स्प्रे

मुंग की फसल में पीलापन किस कारण से होता है

किसान भाइयों जब मुंग की फसल पिला होना शुरू हो जाती है तब देखना की पौधे की पत्तियों में छोटी-छोटी मख्खियाँ होती है जिसे मौजेक भी कहा जाता है यह मख्खियाँ पौधे की पत्तियों का रस चूसने का कार्य करती है जिसकी वजह से मुंग और गवार पिला होना शुरू हो जाता है यह पीलापन अक्सर मुंग की फसल को जब बिजाई के 30 दिन हो जाते है उस समय ज्यादा देखने को मिलती है कभी- कभी यह रोग फसलों में जब फलियाँ ( फाल ) लगना शुरू होती है उस समय भी होने लगता है इस रोग को पिला मौजेक रोग कहा जाता है आप इस रोग का इलाज बहुत ही आसानी से कर सकतें है इसके लिय आप निचे बताई गई स्प्रे का छिडकाव कीजिय और आपके फसली की रक्षा अगले 5 दिनों में हो जाएगा पीलापन एकदम दूर हो जाएगा |

Gvar ki Best Spray in 2022

ग्वार में कौन सी स्प्रे करें?

मुंग की फसल में पीलापन दूर करने की बेस्ट स्प्रे

आज जो आपको मुंग की बेस्ट स्प्रे बताने जा रहें है आप इन दवाइयों को निचे बताये गए तरीके के अनुसार छिडकाव करेंगे तो आपकी फसल जो पीलापन रोग से ग्रसित है उनसे तुरंत छुटकारा मिल जाएगा और साथ में आपको मुंग की ज्यादा पैदावार लेने की स्प्रे भी बताएँगे जिनका छिडकाव करने के बाद प्रति बीघा के हिसाब से आपको 5 कविन्टल का औसतन मिलेगा बस आप छिडकाव सही समय पर करें काफी लाभदायक स्प्रे है चलिय जानते है |

पिलापन दूर करने की बेस्ट स्प्रे

1 . इमिडाक्लोप्रिड 17.6 एसएल :-

किसान भाइयों कृषि विज्ञान केंद्र ने इस इमिडाक्लोप्रिड 17.6 एसएल को प्रमिंत किया है और इनका कहाँ है की अगर आप इस स्प्रे का छिडकाव बरसात होने के 24 घंटे बाद छिडकाव करते है तो आपकी मुंग की फसल में पिला मोजेक रोग है उसको दूर करने में काफी गुणकारी है इसके साथ आपको एक और दवाई का छिडकाव करना है जिसके बारे में निचे बताया गया है आप इनकी मात्रा को निचे बताये गए तरीकों के अनुसार ही करें बिलकुल मोजेक रोग से राहत मिलेगी |

2 . ऐसिटामिप्रिड :-

यह स्प्रे भी खासकर मुंग और गवार की फसल को पीलापन रोग से बचाने के लिय काफी सरदार है आप इन दोनों स्प्रे को निश्चित मात्र में मिलाकर छिडकाव करें इसमें मौजूद रसायन आपकी मुंग और गवार की फसल की सुरक्षा के लिय वरदान है आप बस निचे बताये गए तरीकों के नुसार छिडकाव करें |

छिडकाव करने का सही तरीका :-

  • आप सबसे पहले ध्यान रखें की इस स्प्रे को बरसात होने के तुरंत बाद छिडकाव ना करें |
  • आप 1 हेक्टेयर ( 4 बीघा ) जमीन पर इमिडाक्लोप्रिड 17.6 एसएल स्प्रे को 150 मिली ग्राम लेना है और ऐसिटामिप्रिड को भी 150 मिली ग्राम लेना है |
  • आप इन दोनों स्प्रे को बराबर मात्र में 500 लीटर पानी में अच्छी तरह मिलाना है |
  • अब आप इनका छिडकाव धीरे-धीरे मुंग या गवार की पत्तियों पर अच्छी तरह से करें पतियों पर इस स्प्रे का छिडकाव बढ़िया तरीके से करना है आपको जल्द बाजी नही करना है |
  • क्योकि किसान भाइयों यह दवाइयां बाजार से खरीदते समय किसान को काफी खर्च करना पड़ता है इसलिय आप समय की ध्यान न रखते हुए पौध पर अच्छी तरह करें |
  • यह दोनों स्प्रे किसान भाइयों आपकी मुंग फसल में जो पीलापन या मौजेक रोग है उसको अगले 24 घंटों में ख़त्म कर देगा |
  • और इस स्प्रे को करने के 5 से 7 दिनों बाद आप मुंग की ग्रोथ को और ज्यादा फ़ास्ट करने या फिर फसल की पैदावार काफी ज्यादा करने के लिय आप निचे बताई गई स्प्रे का छिडकाव भी कर सकतें है क्योकि जब पौधा किसी रोग से ग्रसित हो जाता है तो उसके बाद उस फसल की पैदावार कम हो जाती है उस पौधे को बढ़िया रसायन की आवश्यकता होती है ताकि किसान को अच्छी पैदावार मिले चलिय जानते है |

मुंग की ज्यादा पैदावार की बेस्ट स्प्रे कौनसी है

वैसे तो किसान भाइयों बाजार में बहुत सी स्प्रे मौजूद होती है और सभी बेचने वाले बढ़िया ही बताते है क्योकि उनको अपनी-अपनी दवाइयों ( स्प्रे ) को बेचना है ताकि ज्यादा की कमाई हो सकें लेकिन जो आज में आपको moong ki best spray बताने वाला हु इसका छिडकाव करने के बाद पौधे पर काफी ज्यादा फलियाँ लगेगी और पौधे पर फुल भी काफी ज्यादा आएँगे यह मेरा खुद का एक्पिरियंस है क्योकि में भी एक किसान का बेटा हूँ और हमने भी इसका उपयोग करके देखा है |

1 . जेबलिक एसिड

किसान भाइयों आप मुंग की ज्यादा उत्पादन क्षमता बढाने के लिय इस जेबलिक एसिड का इस्तेमाल करें यह कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा प्रमाणित है इसके रसायन के छिडकाव से पौधे की ग्रोथ काफी ज्यादा होती है और पौधे पर फुल और फलियाँ इतनी ज्यादा लगती है की मुंग को सीधा खड़ा रहने में भी काफी दिकत कटती है इसका छिडकाव भी आप प्रति हेक्टेयर में आप 150 ग्राम का कर सकतें है |

2 . इमिडाक्लोरोपिड

इसका छिडकाव करने से मुंग की फसल में छोटे-छोटे किट पतंग होते है उनको भी ख़त्म करता है और साथ में पौधे पर फाल अच्छी तरह से बनाने में भी मदद करता है कई बार मुंग का फुल फाल झड़ने लगता है इसके रोकथाम में इमिडाक्लोरोपिड काफी लाभदायक है आप जरुर इस्तेमाल करें बाजार में आपको आसानी से मिल जाएगी |

मुंग फसल से समन्धित प्रश्न -उत्तर

प्रश्न 1 . मूंग की फसल में स्प्रे कब करना चाहिए?

उत्तर – वैसे तो किसान भाइयों कोई भी समय सीमा नही होती है लेकिन जब आपके क्षेत्र में ज्यादा बरसात होती है तब मून में ज्यादा कीटनाशक उत्पन्न हो जाते है जिसकी वजह से पौधे की ग्रोथ कम होती है ऐसे में आप जब मुंग की फसल को बोये 20 दिन हो जाते है तब आप कीटनाशक दवाई का छिडकाव कर सकतें है |

प्रश्न 2 . मूंग की फसल में कौन सा टॉनिक डालें?

उत्तर – अगर आपके मुंग में पीलापन मोजेक रोग है तो फिर आप इमिडाक्लोप्रिड 17.6 एसएल और ऐसिटामिप्रिड को बराबर मात्र में मिलाकर छिडकाव करें और अगर आपको फसल पैदावार ज्यादा चाहिए तो फिर आप जेबलिक एसिड और इमिडाक्लोरोपिड को मिलाकर कर सकतें है |

प्रश्न 3 . मूंग में कौन कौन से रोग लगते हैं?

उत्तर – मुंग की फसल में ज्यादातर पिला मोजेक रोग ही होता है वैसे अन्य कीटनाशकों से सफ़ेद मख्खी , हरा मख्खी आदि रोग भी होते है लेकिन पिला मोजेक रोग सबसे ज्यादा नुकसानदायक होता है |

प्रश्न 4 . पीला मोजेक रोग क्या है?

उत्तर – मोजेक रोग मुंग और गवार की फसल का सबसे खतरनाक रोग है इसके लक्ष्ण आपके पौधे को पिला और छालानिदार करते है जिसकी वजह से मुंग सुख जाता है |

प्रश्न 5 . 1 एकड़ में कितनी मूंग होना चाहिए?

उत्तर – 1 एकड़ की भूमि में आप किसान भाइयों कम से कम 20 से 24 किलो मुंग की बिजाई करना चाहिए लेकिन कुछ क्षेत्रों में मुंग की जमीन दोमट मिटटी की है वहां पर आप 16 से 20 किलों की बिजाई कर सकतें है |

प्रश्न 6 . पौधों की पत्तियां पीली क्यों हो जाती है?

उत्तर – मुंग का पीलापन अक्सर पिला मोजेक रोग उत्पन्न होने से ही होता है मोजेक रोग पौधे की बीच वाली पत्तियों में छोटी- छोटी मखियाँ होती है जो सम्पूर्ण पौधे को पिला कर देती है |

admin

Recent Posts

झारखण्ड मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनाए – Jharkhand Marriage Certificate Download

झारखण्ड मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनाए ( jharkhand marriage certificate ) :- प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के जितने भी परिवारों की शादी… Read More

20 घंटे ago

बिहार कन्या उत्थान योजना आवेदन फॉर्म – Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana Apply Online

बिहार कन्या उत्थान योजना आवेदन फॉर्म Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana Apply Online :- नितीश सरकार ने प्रदेश की बेटियों को आत्मनिर्भर… Read More

20 घंटे ago

बिहार बेरोजगारी भत्ता आवेदन फॉर्म – Bihar Berojgari Bhatta Registration Form

बिहार बेरोजगारी भत्ता आवेदन फॉर्म - Bihar Berojgari Bhatta Registration Form – आज देश में बहुत से युवा साथी है जो… Read More

7 दिन ago

उत्तर प्रदेश विधवा पेंशन योजना आवेदन फॉर्म – UP Vidhva Pension Scheme Avedan Form

उत्तरप्रदेश विधवा पेंशन योजना ऑनलाइन पंजीयन फॉर्म, UP Vidhva Pension Scheme Avedan Form , उत्तर प्रदेश विधवा पेंशन योजना ऑनलाइन… Read More

7 दिन ago

हरियाणा कन्यादान योजना आवेदन फॉर्म – Hariyana Vivah Shagun Yojana Registration

Hariyana Govt Scheme 2022, कन्यादान योजना हरियाणा ऑनलाइन पंजीकरण , कन्यादान योजना हरियाणा आवेदन फॉर्म, Haryana Kanyadan Yojana Form, शादी… Read More

7 दिन ago

पैन कार्ड में फोटो और सिग्नेचर कैसे चेंज करें – Pen Card Photo Kaise Change Kare

Pan card me Photo Signature kaise change kare, Pan Card correction online, पैन कार्ड में फोटो और सिग्नेचर कैसे चेंज… Read More

1 सप्ताह ago

आधार कार्ड पैन कार्ड से लिंक कैसे करें – How to Link Aadhar Card With Pan Card Online

How To Link Aadhar Card With PAN Card Online, PAN card ko Aadhar Card Se Kaise link Karen, How To… Read More

2 सप्ताह ago

दिल्ली में लेबर कार्ड कैसे बनवाएं – labour card delhi online apply

दिल्ली में लेबर कार्ड कैसे बनवाएं labour card delhi online apply :- दिल्ली की केजरीवाल सरकार प्रदेश के श्रमिक मजदूरों के… Read More

2 सप्ताह ago

दिल्ली राशन कार्ड आवेदन – Delhi Ration Card Kaise Banaye

दिल्ली राशन कार्ड आवेदन - Delhi Ration Card Kaise Banaye :- केजरीवाल सरकार द्वारा प्रदेश के गरीब परिवारों को राशन कार्ड के… Read More

2 सप्ताह ago